वर्जिन कजिन की चूत खोली

 
loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम दीपक है और में चंडीगढ़ का रहने वाला हूँ. में इस साईट का बहुत बड़ा फेन हूँ और मैंने इस साईट की लगभग सारी स्टोरी पढ़ी है, इसलिए मेरा भी मन हुआ कि में भी अपना अनुभव आप लोगों के साथ बाटूँ. ये Hindi sex kahani मेरी और मेरी कज़िन के बारे में है. में अपनी कज़िन के बारे में बता दूँ, उसका नाम शिवानी है और वो थोड़ी साँवली है, लेकिन उसका फिगर तो किसी को भी मस्त कर देने वाला है. अब में सीधे कहानी पर आता हूँ.

ये आज से 2 साल पहले की बात है, में चंडीगढ़ में जॉब करता हूँ और मेरी कज़िन भी चंडीगढ़ में ही जॉब करती है, हमारे ऑफीस आस-पास ही थे और हम एक ही सोसाइटी में रहते थे, इसलिए सुबह जब में ऑफिस जाता हूँ तो वो भी मेरे साथ ही जाती है, क्योंकि में अपनी कार से जाता था. फिर इसी तरह साथ जाते और आते पता नहीं कब में उसे प्यार करने लगा, लेकिन में शादीशुदा हूँ और वो मेरी बहन थी, इसलिए कभी उससे कह नहीं सका. लेकिन एक दिन मेरी पत्नी अपने घर गयी हुई थी, तो मेरी कज़िन मेरे लिए डिनर लेकर आई, क्योंकि हमारा घर आस-पास ही था. में उस समय में अपने लेपटॉप पर ब्लू फिल्म देख रहा था और जैसे ही मैंने उसकी आवाज़ सुनी, मैंने झटसे अपना लेपटॉप बंद कर दिया और वॉशरूम में चला गया और जब में हाथ धो कर बाहर आया तो मेरा लेपटॉप शिवानी के पास था और उसमे वही ब्लू फिल्म चल रही थी और शिवानी उसे देख रही थी. में उसके पीछे खड़ा था, लेकिन शिवानी को ये नहीं पता था.

मैंने सोचा कि आज ही सही मौका है अपने दिल की बात उसे बताने का, लेकिन कैसे कहूँ? ये समझ नहीं आ रहा था. फिर अचानक मेरे दिमाग में एक आइडिया आया, जब तक मूवी चलती रही में चुपचाप खड़ा रहा और जब मूवी ख़त्म हुई तो मैंने शिवानी से पूछ लिया कि मूवी कैसी लगी? वो एकदम डर सी गयी और कुछ भी नहीं बोली. मैंने आराम से उसका हाथ पकड़ा और फिर से पूछा कि बताओ ना मूवी कैसी लगी? तो उसने बस इतना ही कहा कि आप ख़ाना खा लेना में बर्तन बाद में ले जाउंगी. मैंने उससे कहा कि बाद में क्यों? मेरे पास थोड़ी देर बैठो ना और बर्तन साथ में ही ले कर जाना, तो वो मान गयी. मैंने खाना शुरू किया और साथ ही मैंने दोबारा शिवानी से पूछा कि बताओ ना मूवी कैसी लगी? तो उसने कोई जवाब नहीं दिया और जाने लगी. मैंने उसका हाथ पकड़कर उसे रोका और एकदम से कह दिया कि शिवानी में नहीं जानता जो में कह रहा हूँ वो ठीक है या ग़लत, लेकिन में तुमसे प्यार करने लगा हूँ. वो अपना हाथ छुड़ाने की कोशिश करने लगी.

तो मैंने उसको अपनी बाहों में भर लिया और ज़बरदस्ती उसे किस करने की कोशिश करने लगा, लेकिन वो नहीं मान रही थी और कह रही थी कि भैया ये ग़लत है, आप मेरे भाई है और हमारे बीच में ऐसा रिश्ता ग़लत है, प्लीज़ मुझे छोड़ दो. लेकिन मैंने उसे नहीं छोड़ा और उससे पूछा कि एक बात बताओ क्या में तुम्हें अच्छा नहीं लगता, तो वो बोली कि भैया ऐसी कोई बात नहीं है, लेकिन भाई बहन के बीच में ये सब ग़लत होता है. मैंने उसे अपनी बाहों में भर रखा था और फिर मैंने उसकी चूची दबानी शुरू कर दी और वो कहने लगी कि भैया प्लीज़ मत करो, दर्द होता है.

में : देख तू मान जायेगी, तो इतना दर्द नहीं होगा, प्लीज़ मान जाओ ना.

शिवानी : प्लीज़ भैया, प्लीज़ मुझे छोड़ दो, मुझे जाने दो. इतने में मैंने उसकी टी-शर्ट में हाथ डाल दिया था और उसकी चूचीयों को ब्रा के ऊपर से दबाने लगा.

में : शिवानी तेरे बूब्स तो बहुत अच्छे है. प्लीज एक बार मान जा, में तुझे आज सितारों की सैर करवाऊंगा और फिर में उसकी टी-शर्ट ऊपर करने लगा, वो मना कर रही थी, लेकिन अब उसका विरोध कुछ कम हो गया था. शायद उसके भी अरमान जागने लगे थे और फिर मैंने उसकी टी-शर्ट को और ब्रा को ऊपर कर दिया और उसकी चूची चूसने लगा, थोड़ी देर में शिवानी के मुँह से सिसकारियाँ निकलने लगी.

शिवानी : आआआह्ह्ह्ह भैया बहुत दर्द हो रहा आराम से करो.

में : जानू आराम से ही करूँगा, बस अब तू मान गयी है तो अब दर्द कम होगा और मैंने उसे अपनी गोद में उठाया और बेडरूम में ले गया और बेड पर लेटा दिया और खुद उसके ऊपर आकर उसकी चूचीयाँ चूसने लगा. अब वो भी मेरा साथ देने लगी थी और मेरे बालों में अपना हाथ फेर रही थी और कह रही थी.

शिवानी : भैया में भी आपको बहुत प्यार करती हूँ, लेकिन कभी कह नहीं पाई, क्योंकि हमेशा बस इतना ही सोचती रही कि उसके बाद में भाभी से कैसे नज़र मिला पाऊँगी. लेकिन आज आपने ऐसा करके मेरे सोये हुए अरमान जगा दिए, आआआह्ह्ह्ह्हह भैया प्लीज़ थोड़ा आराम से चूसो, ये मेरा फर्स्ट टाइम है और में भी तो आपकी ही हूँ, आराम से करो ना, प्लीज.

में : जानू में, तो कब से जानता था कि तू मुझे चाहती है और में भी तुझे बहुत चाहता हूँ, लेकिन बस कभी कह नहीं पाया, आज मौका मिला है. में एक हाथ धीरे-धीरे नीचे लेकर जाने लगा और उसकी नाभि में घुमाने लगा.

फिर धीरे-धीरे वो मस्त होती गयी, लेकिन इतने में डोर बेल बज गयी और हमें अलग होना पड़ा. मैंने बाहर आ कर देखा तो आकाश शिवानी का भाई खड़ा था और वो पूछने आया था, क्योंकि शिवानी को बहुत देर हो गयी थी, तो मैंने उससे कहा कि बस में खाना खा रहा हूँ और शिवानी अभी बर्तन लेकर आ जायेगी और मैंने उसे वापस भेज दिया. लेकिन अब शिवानी को भी जाना था, क्योंकि अब इतनी देर रुकना ठीक नहीं था, नहीं तो और किसी के आने का डर था, लेकिन फिर मैंने रूम में आकर देखा तो शिवानी अपने कपड़े पहन चुकी थी और वो अब जाने लगी थी, लेकिन उसके चेहरे पर भी एक उदासी साफ नज़र आ रही थी. मैंने शिवानी को गले लगाया और उससे कहा कि प्लीज़ जैसे भी हो सके आज रात को आ जाना, में अब तुमसे अलग नहीं रह पाऊँगा.

शिवानी : भैया, में भी कहाँ आपसे अलग रह पाऊँगी, लेकिन अगर मम्मी आने देगी तभी आ पाऊँगी और फिर वो चली गयी.

मुझे बिल्कुल भी अंदाज़ा नहीं था कि शिवानी रात को वापस आ पायेगी. रात के 11 बजे थे और डोर बेल बजी और जब मैंने दरवाजा खोला तो देखा कि सामने शिवानी खड़ी थी. मैंने उससे पूछा कि कैसे आई हो तो उसने बताया ककी उसने मम्मी को यानी मेरी मौसी से बोला कि भैया और में मूवी देखने वाले है और में मूवी देखकर वापस आ जाऊँगी. लेकिन पहले तो मम्मी ने बोला कि रहने दो रात को अच्छा नहीं लगता, लेकिन फिर मैंने कहा कि मेरे पास दिन में टाईम ही कहाँ होता है? तो मम्मी मान गयी. मैंने जल्दी से शिवानी को घर के अंदर लिया और दरवाजा बंद कर दिया.

में : जानू मुझे नहीं पता था कि तुम मुझसे इतना प्यार करती हो.

शिवानी : आपको क्या पता? में आपसे कितना प्यार करती हूँ, में तो खुद अब आपसे मिलने के लिए मरी जा रही थी.

में : तो जान आओ ना मेरे साथ, अब हम साथ में मिलकर मूवी देखते है और हम अपने बेडरूम में आ गये और मैंने अपने लेपटॉप पर एक और ब्लू फिल्म चालू कर दी.

शिवानी : भैया, ये लड़कियाँ वो अपने मुँह में कैसे ले लेती है.

में : जानू एक बार तुम भी लेकर देखो, इसमें बहुत मज़ा आता है और बातें करते हुए, मैंने शिवानी की टी-शर्ट में हाथ डाल दिया और उसकी चूचीयाँ दबाने लगा और एक हाथ से उसकी चूत को कपड़ो के ऊपर से सहलाने लगा. अब वो धीरे-धीरे गर्म होने लगी थी.

फिर शिवानी ने मुझे किस करना शुरू कर दिया और इसी तरह हम करीब 10 मिनट तक किस करते रहे और में उसकी चूचीयाँ और चूत को सहलाता रहा और फिर मैंने शिवानी की टी-शर्ट और पजामा ऊतार दिया, उसने ब्रा और पेंटी नहीं पहनी हुई थी. अब वो मेरे सामने एकदम नंगी लेटी हुई थी और फिर मैंने उसके पूरे शरीर पर किस करना शुरू किया और किस करते-करते में नीचे आ गया और उसकी चूत पर मैंने जैसे ही किस किया तो उसकी सिसकारियाँ निकलने लगी.

शिवानी : आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह भैया ये क्या कर रहे हो आपप्पप्पप्प बहुत मज़ा आआआआआ रहा है.

में : अभी, तो और भी मज़ा आयेगा जानेमन, बस तुम देखती जाओ और मैंने शिवानी की चूत को चाटना शुरू कर दिया और वो ऐसे तड़पने लगी कि जैसे बिना पानी की मछली हो.

शिवानी : ऊऊऊऊऊऊऊहह भैया, आई लव यू, आज मुझे पूरी तरह से अपनी बना लो, भैया मुझे चोद कर कली से फूल बना दो, मैंने ये चूत आपके लिए ही संभाल कर रखी हुई थी.

में : ज़रूर जानेमन आज में तुम्हें इतना प्यार दूँगा कि तुम मुझसे दूर कभी नहीं जा पाओगी.

शिवानी : ऊऊऊऊऊऊऊहह भैया थैंक यू, में अब आपसे दूर कभी नहीं जाऊँगी. इस तरह में शिवानी की चूत को करीब 15 मिनट तक चूसता रहा और इतने में वो झड़ गयी, ऊऊऊऊऊऊहह भैया मुझे पता नहीं क्या हो रहा है, आईईईईईई म्‍म्म्मम भैया आआअहह.

में : जानू कैसा मज़ा आया?

शिवानी : भैया आज मुझे पता चला है कि सेक्स में कितना मज़ा आता है.

में : डार्लिंग, ये तो अभी शुरुआत थी. आगे आगे देखो कितना मज़ा आता है, जैसे मैंने तुम्हारी चूत चूसी है वैसे ही अब तुम भी मेरा लंड चूसो और देखो कितना मज़ा है.

शिवानी : प्लीज़ भैया नहीं, मुझसे ये नहीं होगा.

में : जानू एक बार लेकर तो देखो, अगर नहीं होगा तो रहने देना, लेकिन प्लीज़ एक बार मुँह में डालकर एक मिनट चूसो तो सही और शिवानी ने मेरे कपड़े ऊतार दिए और मेरे 6 इंच के लंड को मुँह में ले लिया और लॉलीपोप की तरह चूसने लगी.

फिर धीरे-धीरे उसे मज़ा आने लगा और वो 10 मिनट तक मेरे लंड को चूसती रही. अब मेरा लंड एक हार्ड स्टील रोड के जैसा हो चुका था, मैंने अपना लंड उसके मुँह से निकाल लिया और उसे बेड पर लेटा दिया और में वॉशरूम में जाकर तेल की बोतल ले आया.

शिवानी : भैया आप ये तेल किस लिए लाये हो?

में : डार्लिंग तुम्हें दर्द ना हो इसलिए लाया हूँ, तुम्हारा फर्स्ट टाईम है ना.

शिवानी : हाँ भैया थैंक यू, आप मेरा कितना ख्याल रखते हो.

में : आख़िर तुम मेरी जान हो, में तुम्हारा ख्याल नहीं रखूँगा, तो कौन रखेगा?

फिर मैंने शिवानी की चूत पर थोड़ा सा तेल डाला और उसकी चूत के अंदर तक 5 मिनट तक मालिश करता रहा, ताकि चूत अंदर से नरम हो जाये और उसे ज्यादा दर्द ना हो और फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखा और अपने होंठो से शिवानी के होंठो से मिला दिया, ताकि वो आवाज़ ना कर सके.

में : जान अब में अंदर डालने जा रहा हूँ तुम्हें थोड़ा सा दर्द तो होगा, लेकिन प्लीज़ सहन कर लेना.

शिवानी : ठीक है भैया, लेकिन प्लीज़ आराम से करना और फिर मैंने एक जोरदार धक्का लगाया और मेरा लंड 2 इंच तक शिवानी की चूत में घुस गया और वो दर्द के मारे चिल्ला उठी, उउउइईईईई म्‍म्म्ममाआआ मर गयी, प्लीज़ भैया आराम से करो बहुत दर्द हो रहा है.

में : में कुछ देर के लिए रुक गया और जब शिवानी का दर्द कुछ शांत हुआ तो मैंने एक और ज़ोर का धक्का लगा दिया, जिससे मेरा करीब 4 इंच लंड अंदर जा चुका था और शिवानी फिर से चिल्लाना चाहती थी, लेकिन इस बार मैंने उसके होठों को अपने होठों से मिला रखा था तो उसकी आवाज़ अंदर ही दब कर रह गयी और में फिर से कुछ देर के लिए रुक गया. फिर एक आखरी झटके के साथ मैंने अपना पूरा लंड अंदर डाल दिया. इस बार शिवानी को दर्द तो हुआ लेकिन वो उसे सहन कर गयी. फिर मैंने धीरे-धीरे अंदर बाहर करना शुरू किया, तो थोड़ी देर तो शिवानी को दर्द हुआ, लेकिन बाद में उसे मज़ा आने लगा और वो बड़बड़ाने लग गयी.

शिवानी : ऊऊऊऊऊऊहह भैया, आज आपने मुझे कली से फूल बना दिया, आज से में आपकी रंडी बन कर रहूंगी, आप जैसे चाहो मुझे चोदना, आआऊऊऊहह.

में : जानेमन आज के बाद, तो में तुम्हें हर जगह चोदूंगा और तेरी चूत को चोद चोदकर भोसड़ा बना दूंगा.

शिवानी : जो चाहो बना दो भैया, अब ये चूत भी तुम्हारी है और में भी तुम्हारी हूँ.

फिर में उसे करीब 25 मिनट तक चोदता रहा, इस बीच वो एक बार झड़ चुकी थी और वो दूसरी बार झड़ने वाली थी.

शिवानी : भैया, प्लीज़ और तेज करो में फिर से झड़ने वाली हूँ.

फिर मैंने अपने धक्को की स्पीड बड़ा दी और 5 मिनट के बाद हम दोनों साथ में झड़ गये मैंने अपना सारा वीर्य उसकी चूत में ही छोड़ दिया था. फिर थोड़ी देर हम ऐसे ही लेटे रहे और थोड़ी देर के बाद जब शिवानी उठी तो उसने देखा कि नीचे बिछी चादर खून ही खून में हो गई थी. उसने मुझसे पूछा कि भैया ये क्या हुआ? तो मैंने उसे बड़े प्यार से समझाया कि पहली बार अक्सर ऐसा हो जाता है. फिर हमने साथ में शॉवर लिया और फिर शिवानी जाने के लिए तैयार हो रही थी तो मैंने उससे कहा कि में घर पर बात कर लेता हूँ, तुम यहीं पर रुक जाओ और मैंने अपनी मौसी को फोन करके बोल दिया कि शिवानी मूवी देखते देखते सो गयी है, वो सुबह आ जायेगी.

मौसी ने कुछ नहीं कहा और शिवानी उस रात मेरे साथ ही रुक गयी, हम लोग एक ही कंबल में पूरे नंगे होकर एक साथ सोते रहे. फिर कुछ देर के बाद हमारा फिर से मन हुआ और हमने फिर से चुदाई की. उस रात मैंने शिवानी को 3 बार चोदा, जिससे उसकी चूत फूलकर मोटी हो गयी थी. मैंने रात में उसे दर्द की गोली दे दी, जब सुबह वो उठी तो उसके दर्द में बहुत आराम था और वो अपने घर चली गयी और उसके बाद से हमे जब भी मौका मिलता है हम लोग चुदाई करते है.



loading...

और कहानिया

loading...
One Comment
  1. Anonymous
    September 24, 2016 |

Online porn video at mobile phone


Choti chachi ki chut me lgi chudayi ki aag ko muj se sant krwaya ki mjedar kahaniyabadshah ke bevi ko chudna chut ma lundbahan ki advance chudai ki kahaniहिंदी सेक्स स्टोरीजानवर कि चुदाइhindhi sex storijsex story barsat ki raat vidhwa ki chudaihinde pate ka name bast rahte hai bf video mp4नहाते चोदकामchatis gad bf hd desy aantisaikil pe bhatiji se sex kahani Hindiमा असा ल बेटे चुत चुद देसी हीनदAunty ki tundi par tel lagaya sex kahanibehan rupako panime choda hindi fuck storyपति ने मेरी बुर फैलाकर दोस्त से कहा लंड डालो, स्वैपिंग सेक्सpicnic me do saro se chudi x kahani hinपप्पा झवाझवी कथागोली खिला कर छोडा साडी रत क्सक्सक्स वीडियो फुल हदkamsutra khani sexy deshi galeyo balachacha khatchudai mom sexy storyXxx khaniya choti bhan ko jabrjasti chod ke bur se khun nikal diyajija se chudai ki aapbiti maheshjiraat.ke.sfer.me.ristno.ki.real.sex.storynandoi se cudna pada pati ke khatir sexy kahani kachchi kali ka gangbang mastram net.कपल स्वैपिंग मराठी सेक्स कथा राज शर्माshadishuda sajane ka rape sexyरुचि की दिल तोड़ी xxx storiननदोई की बाथरूम में होली चूडा हिंदी स्टोरीantarvasna बहन ने पजामे को थोड़ा फाड़ कर रखा थाआ गये मेरे लंड का तमाशा देखने सेक्स बिडीओ बैट यूप डट कमsakse khahanyaVideshi janwero ki pron kahani hindi mekhatrnak mard k sath gay gand chudai ki kahani antarvasnaचुदाइWwwpapa or unke dost ne choda kahani ristoantarvasna bhayia nerandi banayaसेक़सी ईनडियन विडियोट्रैन में हुई सामूहिक चुदाई रुला देने वालीSCXC BABE DAVER HINDE KHINE GIRLSशादी शुदा बहन जबरदस्ती से गांड मारी चिल्लाती रोती रही चूदाई कहानीGendi kehenibihari padosi shariwali anti bhavi aur ladki ke bur chudai ka hd photoswww.comgooglexxxhilanaxnxHindi sex stosiesआठ आदमियों ने मसाज कर के चोदा हिंदी में पोर्न कहानीPankaj ने की अंजाने कीचुदाईभतिजे ने चाची के बुर मे उँगली डालीKAMUKTA HINDE SAXE KAHANE SADU MA KA SATH BAS TRAN MAsasxxxkhaniMeri bur ka satyanashxxxBF Baap Ne Kari beti ki chudai Awaaz Hindixxx goa sexi ladaki xxx mh sexi kahani.comXxx kahani hendi meSasur or nakor se chudna pdaVideos.www.सेकसीकहानियnew hd mastram chudi ki kahanyia.comचुत कहानीXxsexkahNihindipadose dede sex kahaneदीदी का पीरियड वाला चुत देखा12इच लंबा लड सैकस वीडियोब्रा पेंटी की kamukta hindi sex storyक्सक्सक्स स्टोर्स हिंदी में पापा ने दीदी की चूड़ी और मने माँ की चूड़ीभाई तुम बड़ा बहनचोद हैभाई बहन की क्सक्सक्स हिंदी स्टोर्स नई भाई ने बहन से शादी कीjeth ka land dekh kr bhahu sex hindi khahanimaine savita ka boor choda kahani hindimeचुत कहानीXxनर्स ने मुठ मारना सिखाई हिन्दी सेक्सी स्टोरी हिन्दी नईशादी के बाद पराये चुदवाई चुतMaa ki madarchod behanchod gandi galiyo wali desibees kahaniजोरदार शाट मारा पर लण्ड फिसल गया।bhabhi ne mere se wisper mangayamastram net baap betiwww.google.com negro ke sexi hindi khaniAaram se gand me dala xxxvidesi xxx hd viedo sex fuul hd fuul hfचोदेगे एक लङकी को देखय वालाkaamwali ne paise mange chudai ke liyebhai bhan ki chudai sexstoriya पहलीबार बीबी चेंज की चोदा19साल की लडकी की चुगाई का विडियोRat ke andhere bahan ko choda bhai ne iandianxxx.comLand chut dever bhabi jabardsti chut chudai hindi khani read onlinemoti chut k tast chatai gand sex storiy in hindiबायकोला ढूंढना xxxxxvideo.mose.ekhotalmewww.rap.xxx.kaneya.comxxx karishma chuadai ki kahani mast padne hindixxx hinde khane video likhet